SEO Friendly Article Kaise Likhe | Most Important Tips in Hindi

0
SEO Friendly Article Kaise Likhe

SEO Friendly Article Kaise Likhe, content की दुनिया में आजकल ये शब्द बहुत ज़्यादा सुनने को मिलता है। आप चाहे कोई भी blog लिखिए या फिर कोई भी Article या ब्लॉग ज़्यादातर अब वो SEO को ध्यान में रख कर ही लिखा जाता है। Companies भी अब ऐसे लोगों को hire कर रही हैं जिन्हे SEO की knowledge हो। सिर्फ Professional Life में ही नहीं बल्कि अगर आपको SEO Techniques की जानकारी हो तो Personal use में भी यह आपके लिए बहुत फायदेमंद हैं। अगर आप खुद का Personal Blog लिखते है तो यह आपके Blog की कामयाबी में चार चाँद लगा देगा।

किसी भी blogger या content writer को SEO – friendly article या ब्लॉग की जानकारी होना बहुत ज़्यादा ज़रूरी है। और अगर आपको SEO के बारे में कुछ खास नहीं पता है तो आपने हमारे website पर आकर बहुत अच्छा किया क्यूंकि आज हम SEO – Friendly Article के बारे में ही बात करने वाले हैं।

सबसे पहले आपका यह जानना ज़रूरी है की SEO – friendly article होता क्या है?  

SEO – Friendly Article

SEO का full form Search Engine Optimization होता है। SEO content ऐसा content होता है जिसे search engine traffic को अपनी website की तरफ attract करने के लिए लिखा जाता है। SEO – friendly content आपकी website की ranking को बढ़ाने में भी मदद करता है। SEO का सही इस्तेमाल कई लोग अपना business बढ़ाने के लिए भी करते हैं। अगर आपका article/blog SEO – friendly होगा तो इसकी वजह से आपके website पर customer engagement ज़्यादा होगा, आपके article को ज़्यादा से ज़्यादा लोग like और share करेंगे जिसे कोई भी content लिखने का main moto होता है की उसे ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक कैसे पहुंचाया जाए।

पर SEO – friendly article लिखा कैसे जाता है? इसे लिखते वक़्त किन-किन बातों का ध्यान रखना पड़ता है? आप यही सब सोच रहे हैं ना तो आपको tension लेने की कोई ज़रूरत नहीं है क्यूंकि आज इस article में हम इन्ही सब चीज़ों के बारे में बात करने वाले हैं।

SEO Friendly Article Kaise Likhe in Hindi

SEO – friendly content लिखते वक़्त बहुत सी चीज़ों का ध्यान रखना चाहिए क्यूंकि इसपर हमारे website की ranking निर्भर करती है और साथ ही customer engagement भी।

1. लिखने से पहले अच्छी तरह research करें-

किसी भी topic पर content लिखने से पहले हमे उसके बारे में अच्छी तरह research करनी चाहिए, जानना चाहिए की उसका मतलब क्या है, फायदे नुसकान सबकुछ जो भी हम जान सके। ऐसा करने से हमारा ही article बेहतर बनेगा क्यूंकि research किसी भी content का primary Goal है। इन सब के अलावा हमे यह भी देखना चाहिए की बाकि websites पर उसके बारे में किस तरह लिखा गया है और हम इसमें और क्या add कर सकते हैं जिससे की हमारा article बाकि websites से ज़्यादा बेहतर बने।

2. Keyword research

आप सोच रहे होंगे की अब ये keyword Research क्या होता है ? Keyword Research किसी भी content का बहुत ही एहम हिस्सा होता है। जब भी आप किसी topic पर लिखें, तो उससे पहले आप Google पर यह ज़रूर देखें की से कौन- कौन से keywords लोगों ने ज़्यादा इस्तेमाल करके search किया हुआ है। इससे आपको पता चल जाएगा की आपके article में किस तरह के keywords की ज़रुरत होगी।

अगर आपने अपने article या ब्लॉग में सही keywords use कर लिए तो आपके article पर ज़्यादा से ज़्यादा customer engagement होने से कोई नहीं रोक सकता और साथ ही यह बहुत ज़्यादा successful भी होगा।

Keywords दो तरह के Category होते हैं :

Long-Tail Keyword

Short-Tail Keyword

अब आप कहेंगे की दोनों होते क्या हैं? और इनका इस्तेमाल कैसे होता है? तो हम आपको examples के माध्यम से समझाते है।

Long – tail keyword यानि की long sentence जैसे की “How you can do Digital Marketing” और Short – Tail Keyword यानि की Short Sentence जैसे की Digital Marketing|

किसी भी article में long-tail keyword को ही इस्तेमाल करना चाहिए क्यूंकि यह content के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इससे website की ranking पर भी अच्छा असर पड़ता है।

3. Keyword का इस्तेमाल Title में ज़रूर करें-

अपने article के title को keyword के अनुसार ही लिखें इससे आपके website पर traffic बढ़ेगा।

एक अच्छा और Attractive Title लिखने के कुछ तरीके होते है:

  • Title लिखते वक़्त आपको ये ध्यान रखना होगा की वो ज़्यादा लम्बा ना हो। 
  • Tiltle ऐसा होना चाहिए जिसे पढ़ते ही Readers को समझ आ जाए की article किस बारे में लिखा गया है।
  • Title में एक Word को एक से ज़्यादा बार Repeat नहीं करना चाहिए।
  • Title को Highlight ज़रूर करें।

4. अपने पहले paragraph और last paragraph में keywords का इस्तेमाल ज़रूर करें-  

आपको article के पहले और Last Paragraph में Keywords का इस्तेमाल ज़रूर करना चाहिए इससे Search Engine ko customer engagement के chances बहुत ही ज़्यादा बढ़ जाते है और साथ ही यह article को SEO – friendly बनाने का बहुत ही महत्वपूर्ण तरीका है। पर एक बात को हमेशा याद रखिएगा की keywords को article में natural तरीके से use करना चाहिए, content पढ़ते वक़्त ऐसा नहीं लगना चाहिए की keyword को ज़बरदस्ती डाला गया है।

5. Content को जितना अच्छा लिख सकें-

किसी भी article की सफलता उसके content पर depend करती है। Readers हमेशा अच्छे content वाला article पढ़ना पसंद करते है। इसलिए हमे हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए की हमारा content अच्छा हो।

6. Image Alt Tag का इस्तेमाल करें-

किसी भी तरह का search engine image को read नहीं कर सकता। हमे उसे बताना पड़ता है की हमने अपने article में image का इस्तेमाल किया है और वह किससे जुड़ा हुआ है।  इसी के लिए हम Image Alt Tag का इस्तेमाल करते है। Alt Tag में हमे image का नाम लिखना होता है और वो किस्से related है यह भी। जैसे की मान लीजिए अगर किसी window का image हमने डाला हो तो Alt Tag में window लिखना होगा।

7. Important keywords और sentences को highlight ज़रूर करें-

Important keywords और sentences को highlight करना readers के लिए भी अच्छा रहता है और search engine के लिए भी।

8. Long content लिखें-

आप ज़्यादातर यही कोशिश कीजिए की आप जब भी लिखें तो long content ही लिखें। क्यूंकि long content में ज़्यादा detail information होती है और आप इसमें topic से related हर point को cover कर सकते हैं।

Readers को भी वैसे ही article पसंद आते है जहाँ उन्हें हर एक information मिल जाए। Readers के साथ – साथ Google को भी long article ही पसंद आता है और इससे आपके website पर traffic आसानी से बढ़ सकता है।

9. Article को structural way में लिखें-

Article लिखते वक़्त हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए की उसे एक proper structure दें। कौन सा point कहा आएगा, किस content को कहाँ place किया जाए ये सब ध्यान रखना होता है। यह नहीं की कोई भी point कही भी लिख दीजिए इससे आपका appealing नहीं लगेगा और readers को भी attract नहीं कर पाएगा।

10. Heading और subheading का इस्तेमाल करें-

Main heading/title को H1 कहा जाता है और subheadings को H2, H3, H4, H5 | Heading और subheading का इस्तेमाल करना SEO का एक बहुत महत्वपूर्ण technique है। Heading सिर्फ एक होता है लेकिन subheading बहुत से हो सकते हैं।

11. अपने competitor website के post को analyze करें-

आपके जो भी competitor हैं उनकी websites को एक बार ज़रूर देखे।  इससे आपको पता चलेगा की उन्होंने अपने article में क्या-क्या लिखा है और आप अपना content उनसे बेहतर कैसे बना सकते हैं।  

12. Article में previous work links ज़रूर add करें-

अगर कोई आपके website पर आया और आपका article पढ़ रहा हो तो हो सकता है की वो आपकी लिखी हुई और भी articles को पढ़ना चाहेगा। इसलिए आपको अपने current article में अपने previous work के links ज़रूर add करने चाहिए। यह customer engagement बढ़ाने के लिए बहुत ही अच्छा तरीका साबित होता है। 

13. User Intent article होना चाहिए-

User Intent article का मतलब होता है की readers जो भी जानकारी ढूंढ रहे हैं उन्हें वो आपके article में मिल जाना चाहिए नहीं तो वो content पूरा पढ़े बिना ही page exit कर देंगे जिससे की आपकी website पर बुरा असर पड़ेगा।

14. Numbers और bullet points का इस्तेमाल भी करें-

अपने article में सिर्फ theoretical information नहीं दें, कहीं-कहीं पर numbers/figures का इस्तेमाल करना भी ज़रूरी होता है। इसके अलावा कुछ-कुछ information को bullet points में भी लिखें क्यूंकि readers theoretical content से ज़्यादा इस तरह के article पढ़ना पसंद करते हैं।

15. Paragraph को short रखें-

Overall content long होना चाहिए पर उन्हें short paragraphs में divide कर दें। Readers को informative content पढ़ना तो पसंद होता है पर जैसे ही वो देखते हैं की article बहुत ज़्यादा long है वो बिना पढ़े ही page exit कर देते हैं। पर ज़ाहिर सी बात है की अगर आपको article अच्छा और attractive लिखना है तो वो long होगा ही। इसलिए इसका सबसे आसान तरीका है की अपने content को short paragraphs में divide कर दो।  इससे readers article पढ़ भी लेंगे और उन्हें पता भी नहीं चलेगा की उन्होंने long content पढ़ा है क्यूंकि paragraphs में बाटे गए article देखने में ज़्यादा बड़े नहीं लगते। 

16. Blog URL-

Blog URL article को SEO – friendly बनाने का बहुत important technique है। Blog URL देते वक़्त आप उसमे सिर्फ अपना primary keyword लिखें jaese ki webhindiblogging.com/seo-friendly-article-kaise-likhe/ इससे readers और Google दोनों को देखते ही पता चल जाएगा की आपका article किस बारे में है और साथ ही यह तरीका website की ranking बढ़ाने के लिए बहुत अच्छा माना जाता है।

17. Keyword Stuffing बिलकुल भी ना करें-

Keyword stuffing का मतलब होता है की आपने अपने article में ज़बरदस्ती हर जगह keywords use किया है जहाँ उसकी ज़रूरत नहीं थी वहां पर भी। इससे overall content देखने में बिलकुल भी अच्छा नहीं लगता और साथ ही यह आपके website की ranking के लिए बहुत बुरा होता है। 

इससे आपकी पेज रैंकिंग एक बार के लिए तो top पे आ जाती है लेकिन जैसे ही गूगल को keyword stuffing का पता चल जाता है वो आपकी वेबसाइट को पीछे की और धकेल देता है |

18. Grammatical Mistakes ना करें-

कोई भी content लिखते वक़्त जाने अनजाने बहुत से errors हो जाते है। इसलिए जब भी आप अपना पूरा content लिख लें एक बार cross-check ज़रूर करें की कहीं कोई spelling mistake, गलत punctuation या फिर grammatical error तो नहीं है। क्यूंकि आपका article चाहे कितना भी अच्छा और informative क्यों ना हो अगर आपने उसमे ये सब गलतियां की होंगी तो वो readers के लिए बिलकुल भी appealing नहीं होगा। 

इस तरह के article को पढ़ने में reader’s बिलकुल भी interested नहीं होते हैं। और ये भी हो सकता है की आपकी इस गलती की वजह से वो दुबारा कभी आपकी website पर आए ही ना।   

19. Article का description add करें-

Article का description जिसके की meta description कहा जाता है, उसे add करना बहुत फायदेमंद होता है। Meta description आपके पूरे article का एक summary होता है। जब भी आप इसे लिखें तो इसमें keyword और heading का इस्तेमाल करें। 

जब भी कोई reader आपके article को search करेगा तो उसे topic के साथ-साथ सबसे पहले meta description भी दिखेगा इसलिए इसे सोच समझ कर अच्छे से लिखे। क्यूंकि यह description ही decide करेगा की readers आपकी website पर आएँगे या नहीं।

20. अपने website पर articles regularly update करते रहें-

ऐसा नहीं होना चाहिए की एक article publish कर दिया और फिर कई दिनों तक कोई update नहीं। Website पर customer engagement बढ़ाने के लिए regular updates होते रहना बहुत ज़रूरी होता है। इससे Google और readers दोनों को यह समझ आता है की आपकी website new articles से हमेशा updated रहती है। इससे आपकी Google ranking भी अच्छी बनी रहती है।

Conclusion

आजकल सभी लोग SEO – friendly article की ही demand करते हैं। यह professional और personal दोनों के लिए सही होता है। SEO techniques को use करके आप अपने website की ranking बढ़ा सकते हैं, customer engagement भी बढ़ा सकते हैं और साथ ही इसकी वजह से content writers की writing भी improve होती है जिससे उनका content और भी ज़्यादा अच्छा बनता है।

हमने आपको यह बताया की SEO – friendly article क्या होता है और साथ ही यह भी बताया की इसे लिखते कैसे हैं। अगर आप हमारे बताए हुए steps को follow करते हुए अपना article लिखते हैं तो वो SEO – friendly ज़रूर बनेगा। इस तरह के article business को बढ़ाने के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

हमे उम्मीद है की आपको हमारा ये article ज़रूर अच्छा लगेगा और आगे भी इस तरह के articles पढ़ने के लिए हमारे website पर आते रहें। धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here